Irfan Khan

Hommage à Irfan Khan (1964-2020)

Quelques informations sur Irfan Khan (aussi orthographié Irrfan Khan) :

IMDb Wikipedia

En hommage à Irfan Khan, disparu le 29 avril 2020, voici le clip audio de promotion de son dernier film.

Last audio clip Dernier témoignage
Sanjay Leela Bhansali, Bhavani Iyer Traduction : Martine Gobert
Hello, भाइयों, बहनों, नमस्कार, मैं इर्फ़ान!
मैं आज आपके साथ हूँ भी, और नहीं भी…
ख़ैर, ये फ़िल्म अंग्रेज़ी मीडियम मेरे लिये बहुत ख़ास है।
सच, यकीन मानिये, मेरी दिली ख़्वाहिश थी कि इस फ़िल्म को मैं उतने ही प्यार से promote करूँ जितने प्यार से हमने इसे बनाया है, लेकिन मेरे शरीर के अन्दर कुछ unwanted मेहमान बैठे हुए हैं।
उनसे वार्तालाप चल रहा है।
देखते हैं किस करवट उठ बैठता है।
जैसा भी होगा, आपको इत्तला कर दी जाएगी।
कहावत है – When life gives you a lemon, you make a lemonade.
बोलने में अच्छा लगता है, पर सच में, जब ज़िन्दगी आपके हाथ में नींबू थमाती है न, तो शिकंजी बनाना बहुत मुश्किल हो जाता है।
लेकिन आपके पास और choice भी क्या है, positive रहने के अलावा!
इन हालात में नींबू की शिकंजी बना पाते हैं, कि नहीं बना पाते हैं, ये आप पर है…
पर हम सब ने इस फ़िल्म को उसी positivity के साथ बनाया है,
और मुझे उम्मीद है कि ये फ़िल्म आपको सिखाएगी, हँसाएगी, रुलाएगी, फिर हँसाएगी शायद!
Enjoy the trailer! And be kind to each other and watch the film…
And yes, wait for me!
Hello, frères et sœurs, bonjour, je suis Irfan !
Aujourd’hui, je suis encore avec vous et c’est comme si je ne l’étais déjà plus…
Enfin, ce film English Medium (L’anglais utilisé comme véhicule de l’enseignement) est très particulier pour moi.
Vraiment, croyez-moi, mon plus grand désir est de promouvoir le film avec autant de cœur que nous en avons eu au moment du tournage.
Mais quantité d’hôtes indésirables ont pris possession de mon corps et se livrent à bien des discussions à mon sujet.
Comment les choses vont-elles tourner pour moi ?
Peu importe ce qu’il adviendra, je vous tiendrai au courant.
Un proverbe dit : « Quand la vie vous donne un citron, vous faites de la limonade. »
Cela paraît facile à dire, mais, en vérité, parfois la vie vous met un citron entre les mains et alors, faire de la limonade devient vraiment très difficile.
Mais, avez-vous vraiment le choix, si ce n’est d’adopter une attitude positive ?
Dans cette situation, faire de la limonade avec le citron ou pas ne dépend que de vous…
Mais nous tous, nous avons réalisé ce film avec optimisme et j’espère qu’il vous instruira, vous fera rire, pleurer, puis rire encore, peut-être.
Savourez la bande annonce, soyez bons les uns envers les autres et regardez le film !
Et surtout, attendez-moi !