Affiche du film Taare Zameen Par
Écoutez les chansons de Taare Zameen Par sur Music India Online

Chanson du film
तारे ज़मीन पर

Site du film (anglais). Pour en savoir plus sur le film (anglais).

Écoutez la chanson (Music India Online).

 

Ou regardez le clip correspondant.

तारे ज़मीन पर Ces étoiles sur la terre
Prasoon Joshi Traduction : Séverine Chasson et Sophie-Lucile Daloz
देखो इन्हें, ये हैं ओस की बूंदें
पत्तों की गोद में आसमान से कूदें
अंगड़ाई लें फिर करवट बदल कर
नाज़ुक से मोती हँस दें फिसल कर,
खो न जाएं ये तारे ज़मीन पर
Regarde-les, telles des gouttes de rosée
Dans le giron des feuilles, nichées, elles bondissent des cieux
S’étirent, se retournent,
Telles des perles délicates, elles éclatent de rire en glissant
Ne perdons pas ces étoiles sur la terre
ये तो हैं सरदी में, धूप की किरनें
उतरे जो आँगन को सुनहरा-सा करने
मन के अँधेरों को रौशन-सा कर दें
ठिठुरती हथेली की रंगत बदल दें,
खो न जाएं ये तारे ज़मीन पर
Ces rayons de soleil un jour d’hiver
Descendus inonder le jardin, d’or
Elles illuminent l’opacité de l’esprit
Elles donnent de l’aplomb à la main tremblante
Ne perdons pas ces étoiles sur la terre
जैसे आँखों की डिबिया में निन्दिया
और निन्दिया में मीठा-सा सपना
और सपने में मिल जाए फ़रिश्ता-सा कोई
जैसे रंगों भरी पिचकारी
जैसे तितलियाँ, फूलों की क्यारी
जैसे बिना मतलब का प्यारा रिश्ता हो कोई
ये तो आशा की लहर है
ये तो उम्मीद की सहर है
ख़ुशियों की मेहर है,
खो न जाएं ये तारे ज़मीन पर
Tel le sommeil piégé derrière les paupières
Et dans le sommeil, un doux rêve
Et dans ce rêve, un ange retrouvé
Telles des fontaines de couleur
Tels des papillons, tel un parterre de fleurs
Telle une relation de tendresse sans attente
Elles sont une vague d’espoir
Elles sont l’aube de l’espérance
Et la bénédiction de joies
Ne perdons pas ces étoiles sur la terre
देखो रातों के सीने पे ये तो
झिलमिल किसी लौ से उगे हैं
ये तो अंबिया की ख़ुशबू हैं, बागों से बह चले
जैसे काँच में चूड़ी के टुकड़े
जैसे खिले-खिले फोलों के मुखड़े
जैसे बंसी कोई बजाए पेड़ों के तले
ये तो झोंके हैं पवन के
ये घुंघरू जीवन के
ये तो सुर हैं चमन के,
खो न जाएं ये तारे ज़मीन पर
Sur l’obscurité dense du cœur de la nuit
Elles apparaissent telle une flamme qui reluit
Telle la senteur des manguiers, elles embaument l’air
Telles des brisures de bracelets en verre
Tels les visages de fleurs écloses
Telles des notes de flûtiste arrivant de la forêt
Elles sont des souffles d’air frais
Les grelots de la vie,
la mélodie du vent,
Ne perdons pas ces étoiles sur la terre
मुहल्ले की रौनक गलियाँ हैं जैसे
खिलने की ज़िद पर कलियाँ हैं जैसे
मुट्ठी में मौसम की जैसे हवाएं
ये हैं बुज़ुर्गों के दिल की दुआएं,
खो न जाएं ये तारे ज़मीन पर
Telles les ruelles qui sont l’éclat du quartier
Tels les bourgeons décidés à éclore
Tels les vents du temps dans le creux de la main
Elles sont les prières des cœurs de nos ancêtres,
Ne perdons pas ces étoiles sur la terre
कभी बातें जैसे दादी-नानी
कभी छलकें जैसे मम-मम पानी
कभी बन जाएं भोले सवालों की झड़ी
सन्नाटे में हँसी के जैसे
सोने होठों पे ख़ुशी के जैसे
ये तो नूर हैं बरसे ’गर तेरी किसमत हो बड़ी
जैसे झील में लहराए चंदा
जैसे भीड़ में अपने का कन्धा
जैसे मनमौजी नदिया
जाग उठे कुछ कहे
जैसे बैठे-बैठे मीठी-सी झपकी
जैसे प्यार की धीमी-सी ठपकी
जैसे कानों में सरगम हरदम बजती ही रहे
जैसे बरखा से उतरी है बुन्दिया
खो न जाएं ये तारे ज़मीन पर
Parfois leurs paroles sont sages, comme celles des anciens
Parfois elles fusent, insouciantes comme le ruisseau
Ou deviennent une rafale d’innocentes questions
Tel un rire qui rompt le silence
Un sourire qui illumine un visage
Elles sont une pluie de lumière céleste si ton destin est grand
Telle la lune dansante sur le lac
Telle une silhouette familière dans la foule
Tel un ruisseau joyeux qui se réveille et
Tel un ruisseau qui murmure, qui mousse et qui glousse
Telle une sieste douillette à midi
Tel le réconfort d’une tendre caresse
Telle une douce gamme qui résonne au creux de l’oreille
Telles des gouttelettes de pluie…
Ne perdons pas ces étoiles sur la terre